लाइव रूले आदर्श

लाइव रूले आदर्श

time:2021-10-23 06:45:16 रबी फसलों का कुल रकबा अब तक 5 प्रतिशत बढ़कर 21.37 लाख हेक्टेयर पर Views:4591

फुटबॉल ऑड्स एनालिसिस नेटवर्क लाइव रूले आदर्श betway गेम ऐप,fun88 रेफरल कोड,lovebet 5 यूरो कोई जमा नहीं,lovebet इलिनोइस,lovebet थ,3 रील स्लॉट jio,Baccarat परीक्षण के लिए आवेदन करें,बैकारेट पी,फाइटिंग के लिए बेस्ट ऑफ फाइव,सट्टेबाज की सिफारिश,कैसीनो शेर,शतरंज,क्रिकेट बुक माय शो,क्रिकेट यो यो टेस्ट,यूरोपीय कप एशियाई प्लेट मकाऊ प्लेट,फ़ुटबॉल बेटिंग ऑड्स कमेंट,जी स्पोर्ट्स इंदिरापुरम,सुखी किसान कहलाता है,मैं पोकर हैंड,जैकेट ब्लाउज,ला लीगा स्टैंडिंग,लाइव डीलर बैकरेट,लॉटरी खोबोर,एम कैसीनो बुफे,ऑनलाइन कैसीनो और सट्टेबाजी,ऑनलाइन गेम मंदिर रन,ऑनलाइन स्लॉट सूची,ओकेर १० नियम,पोकर काम मशीन,रूले संख्या भविष्यवाणी,रमी डोमेन APK,रश लिवार्स फिशिंग लेक,स्लॉट gfg,स्पोर्ट्स पैंट,तीन पत्ती सोना APK,नवीनतम फुटबॉल खेल नियम,आभासी क्रिकेट प्रयोग,वाइल्डज़ अधिक गीत प्राप्त करें,lottery पंजाब,करीना फ्री फायर रिडीम कोड,क्रिकेट शब्दावली,छोटे लॉटरी संगबाद,पावर बैंक,बरसात यूट्यूब,रमी लूट,स्टेटस नवरात्रि, .रबी फसलों का कुल रकबा अब तक 5 प्रतिशत बढ़कर 21.37 लाख हेक्टेयर पर

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) चालू रबी सत्र में फसल बुवाई का कुल रकबा अभी तक पांच प्रतिशत बढ़कर 21.37 लाख हेक्टेयर हो गया है। इस वृद्धि का कारण तिलहन और मोटे अनाज की बुवाई के रकबे में हुई वृद्धि है।

रबी सत्र की फसलों की बुवाई अक्टूबर से शुरू होती है।

एक साल पहले इसी अवधि में, बुवाई का यह रकबा 20.37 लाख हेक्टेयर था।

रबी की प्रमुख फसल गेहूँ की बुवाई शुरू हो गई है, लेकिन रकबा अब तक 0.001 लाख हेक्टेयर कम है, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि में 0.07 लाख हेक्टेयर था।

एक सरकारी बयान में कहा गया है कि गेहूं में, ‘‘केवल जम्मू- कश्मीर राज्य द्वारा 0.001 लाख हेक्टेयर के मामूली क्षेत्र में बुवाई की सूचना दी गई है। धान का रकबा 1.90 लाख हेक्टेयर रहा, जो एक साल पहले इसी अवधि में 3.12 लाख हेक्टेयर था।

दलहन के मामले में इस सत्र में अब तक 3.04 लाख हेक्टेयर में बुवाई की जा चुकी है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में यह रकबा 4.7 लाख हेक्टेयर था।

मोटे अनाज की बुवाई का रकबा 1.17 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 1.59 लाख हेक्टेयर हो गया है।

तिलहन के मामले में, अब तक (22 अक्टूबर तक) लगभग 14.84 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई की सूचना मिली है, जो एक साल पहले की अवधि में 11.31 लाख हेक्टेयर थी।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf
Telecom

Q2 FY22 preview: Tariff hikes to push Airtel’s growth; Jio’s modest outlook as Vi fights for its turf

9 mins read
After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?
Investing

After a robust rally, pharma stocks feel under the weather. But do they make a case for value buy?

9 mins read
As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry
Aviation

As airlines inch back to normalcy, vacant middle seats are a cause of worry

11 mins read

Coal Shortage: कोल इंडिया रेकॉर्ड कोयले का प्रोडक्शन कर रही है, लेकिन देश में बहुत से पावर प्लांट्स को कोयले की कमी की दिक्कत झेलनी पड़ रही है। क्रिसिल की एक रिपोर्ट से पता चला है कि 73 फीसदी पावर प्लांट के पास तो करीब 5 दिन का ही कोयला स्टॉक में बचा है। कुछ राज्यों में तो कोयले की इतनी अधिक दिक्कत हो रही है कि वहां पर बिजली की कटौती अब आम बात हो गई है।नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश के कृषि क्षेत्र में महिलाओं का योगदान काफी बढ़ा है और वे खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। वह मंत्रालय द्वारा आयोजित 'वीमेन इन एग्री-स्टार्टअप्स: क्रिएटिंग वैल्यू विद सप्लाई चेन मैनेजमेंट' वेबिनार में बोल रहे थे। चौधरी ने 'आजादी का अमृत महोत्सव' के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में 75 प्रगतिशील महिला किसानों और महिला उद्यमियों की सफलता की कहानियों को दर्शाने वाली एक ई-पुस्तक काएसजेवीएन उत्तराखंड में जलविद्युत परियोजनाओं में निवेश को इच्छुक

2020 में कई बड़े स्‍मार्टफोन ट्रेंड देखने को मिले हैं. इनमें 100x जूम, 65 वॉट चार्जिंग, लिडार कैमरा, डॉल्‍बी विजन वीडियो, 7000 एमएएच बैटरी के अलावा कई और शामिल हैं. क्‍या आप जानना चाहेंगे कि भारत में इन फीचरों की शुरुआत किसने की है और ऐसे स्‍मार्टफोन ब्रांडों की कीमत कितनी है? यहां हम आपको इनके बारे में बता रहे हैं.नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) ने शुक्रवार को कहा कि वह सौर ऊर्जा परियोजनाओं के लिए 11 सदस्य देशों को 50,000 अमेरिकी डॉलर तक की सहायता देगा। आईएसए के महानिदेशक अजय माथुर ने 11 सदस्य देशों - कोमोरोस, इथियोपिया, फिजी, गुयाना, जमैका, किरिबाती, मलावी, सेनेगल, टोगो, टोंगा और नाइजर - की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) को औपचारिक रूप से मंजूरी दी। इस संबंध में आईएसए ने एक औपचारिक हस्ताक्षर समारोह का आयोजन 18-21 अक्टूबर को चौथी आम सभा में किया।म्युचुअल फंड के रूप में श्रेई म्यूचुअल फंड का अस्तित्व समाप्त: सेबी

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) दूरसंचार विभाग ने संचार नेटवर्क के क्रियान्वयन को आसान बनाने के लिए संशोधित नियमों को अधिसूचित किया है। इसके तहत ऊपर से तार बिछाने के लिए 1,000 रुपये प्रति किलोमीटर का एकमुश्त शुल्क तय किया गया है और प्रशासनिक तथा बहाली शुल्क के अलावा अन्य सभी शुल्क से राहत दी गयी है। अधिसूचना के अनुसार, ऊपर से दूरसंचार तार ले जाने के लिए दस्तावेज के मामले में भी राहत दी गयी है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया, ‘‘केंद्र सरकार ने भारतीयनागपुर, 22 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि भारतमाला परियोजना के तहत देश में करीब 35 मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक्स पार्क बनाए जाएंगे और जिनमें से चार महाराष्ट्र में प्रस्तावित हैं। गडकरी ने महाराष्ट्र के वर्धा जिला के सिंधी में एक मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक्स पार्क के लिए जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट (जेएनपीटी) और राष्ट्रीय राजमार्ग लॉजिस्टिक्स प्रबंधन लिमिटेड (एनएचएलएमएल) के बीच एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर करने के अवसर पर यह बात कही। मंत्री ने कहादिवाली से पहले धनतेरस में सिक्कों और हल्के आभूषणों की बिक्री बढ़ी

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
मिडवीक जैकपॉट बेटिका गेम्स

Coal Shortage: कोल इंडिया रेकॉर्ड कोयले का प्रोडक्शन कर रही है, लेकिन देश में बहुत से पावर प्लांट्स को कोयले की कमी की दिक्कत झेलनी पड़ रही है। क्रिसिल की एक रिपोर्ट से पता चला है कि 73 फीसदी पावर प्लांट के पास तो करीब 5 दिन का ही कोयला स्टॉक में बचा है। कुछ राज्यों में तो कोयले की इतनी अधिक दिक्कत हो रही है कि वहां पर बिजली की कटौती अब आम बात हो गई है।

स्लॉट मशीन खिलौना

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) पेट्रोल और डीजल की आसमान छूती कीमतों से राहत के लिए करों में कटौती की विपक्ष दलों द्वारा मांग के बीच तेल मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को कहा कि इस कर की मदद से महामारी के दौरान लाखों लोगों को मुफ्त कोविड-19 वैक्सीन दी गई, मुफ्त भोजन और रसोई गैस का इंतजाम किया गया तथा कई अन्य सरकारी योजनाओं के वित्त पोषण किया गया। उन्होंने कहा कि इस तरह के उपकर को कम करने की मांग अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने जैसी है। मंत्री ने कहा कि घरेलू दरें अंतरराष्ट्रीय तेल कीमतों से जुड़ी

रील स्लॉट लोगो

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को कहा कि सऊदी अरब और अन्य देशों से बेहतर कीमत पर कच्चे तेल का आयात करने के लिए भारत सरकार सार्वजनिक उपक्रमों और निजी क्षेत्र की रिफाइनरी कंपनियों को एक साथ लाने पर विचार कर रही है। उन्होंने कहा कि देश इस समय ईंधन की रिकॉर्ड कीमतों से जूझ रहा है, और ऐसे में संयुक्त खरीद से बेहतर मोलतोल की ताकत आएगी तथा आयात बिल में कटौती करने में मदद मिलेगी। मंत्री ने कहा कि उनके मंत्रालय के सचिव ने इस संबंध में सार्वजनिक और निजी रिफाइनरियों के

lovebet 688

मारुति सुजुकी इंडिया, फोर्ड इंडिया और महिंद्रा एंड महिंद्रा जैसी वाहन कंपनियां भी जनवरी से अपने वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा कर चुकी हैं.

सबसे सुंदर फुटबॉल खिलाड़ी

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को ब्रिटेन की विदेश मंत्री लिज ट्रस के साथ बैठक की और दोनों देशों के बीच सहयोग के विभिन्न क्षेत्रों पर चर्चा की। दोनों नेताओं ने ब्रिटेन और भारत के बीच सहयोग के तहत हरित ऊर्जा, बुनियादी ढांचे, राष्ट्रीय मौद्रीकरण पाइपलाइन, फिनटेक और आईएफएससीए में निवेश पर बातचीत की। वित्त मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने मई 2021 में भारत और ब्रिटेन के प्रधानमंत्रियों द्वारा अपनाई गई व्यापक रणनीति साझेदारी से दोनों देशों के बीच मजबूत हुए घनिष्ठ सहयोग का उल्लेख किया।’’ इससे पहले

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी
स्लॉट्सवीनगेट 9 होल्स्टेब्रो

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) बाजार नियामक सेबी ने शुक्रवार को डीएचएफएल के बारह प्रवर्तकों के खिलाफ पारित आदेशों की पुष्टि की, जिसके चलते उन्हें प्रतिभूति बाजार में प्रतिबंधित कर दिया गया है। इस मामले में विस्तृत जांच लंबित है। डीएचएफएल के ये प्रवर्तक - कपिल वधावन, धीरज वधावन, राकेश कुमार वधावन, सारंग वधावन, अरुणा वधावन, मालती वधावन, अनु एस वधावन, पूजा डी वधावन, वधावन होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड, वधावन कंसोलिडेटेड होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड, वधावन रिटेल वेंचर प्राइवेट लिमिटेड और वधावन ग्लोबल कैपिटल लिमिटेड हैं। सेबी ने इन्हें सितंबर 2020 में पारित एक अंतरिम आदेश में प्रतिभूति बाजार में प्रतिबंधित कर दिया