• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

बैकरेट स्थिर कमाई धोखा देती है

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-23 07:27:07

lovebet केघली बैकरेट स्थिर कमाई धोखा देती है 10cric निकासी के तरीके,casumo इंस्टाग्राम,लियोवेगास यूएसए,lovebet दा दिनहिरो,lovebet ओग,lovebet.com बांग्लादेश,औ कैसीनो,बैकरेट खेल परिचय,बैकरेट जीत दर तालिका,सट्टेबाजी संख्या,कैसीनो चिप्स,कैसीनो विलियम हिल,क्लासिकरम्मी xyz,क्रिकेट मैच भारत बनाम इंग्लैंड,एक कलि दो पट्टियां गीत,f स्पोर्ट्स सैंडल फ्लिपकार्ट,फुटबॉल खिलाड़ी समुद्र में हारे,उत्पत्ति कैसीनो यूकेजीसीई,यूरोपीय फ़ुटबॉल पर दांव कैसे लगाएं,आईपीएल क्वालीफायर,जैकपॉट यंत्र,लाइव कैसीनो एपीआई भारत,लॉटरी 4 पिक,भाग्यशाली दिन कैसीनो भारत,एनबीए लॉटरी ऑड्स,ऑनलाइन शतरंज और ताश के खेल का विकास,ऑनलाइन पोकर एनजे,परिमच क्या है,पोकर जींस,रियल सन सिटी एजेंट,नियम लॉग,रम्मी जीत नकद,स्लॉट मशीन का नाम पिकर,खेल एक क्लब,स्पोर्ट्सबुक मैसाचुसेट्स,दोस्तों के साथ टेक्सास होल्डम ऑनलाइन,टीआर लॉटरी रात,फ़ुटबॉल विकलांगता को कहाँ देखता है,वाई स्पोर्ट्स ट्रैकसूट्स,एस्टेट जनरल क्या था,क्रिकेट in hindi meaning,गोवा झारखंड,तीन पत्ती live,बकरा ईद की कुर्बानी,बेटिंग पोस्ट कैसे पोस्ट करें,लॉटरी मुंबई, ,कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

  


  

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

  कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी, यह है वजह

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है.
मुंबई : पिछले कुछ महीनों में कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में काम करने वाले वर्कर्स की न्‍यूनतम दिहाड़ी मजदूरी बढ़ी है. ये रियल एस्‍टेट, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, सीमेंट, स्‍टील, सड़क एवं हाईवे और शहरी विकास परियोजनाओं में काम करते हैं. मजदूरी में बढ़ोतरी की वजह लेबरों की कमी है. कंपनियों ने अपने पुराने प्रोजेक्‍टों को पूरा करने के लिए काम की रफ्तार बढ़ाई है.

कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में न्‍यूनतम मजदूरी में 15-20 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस सेक्‍टर में करीब 5 करोड़ लोग काम करते हैं. मानव संसाधन प्रबंधन फर्म बेटरप्‍लेस के अनुमान के अनुसार, महामारी से पहले की तुलना में मजदूरी 450-500 रुपये से बढ़कर 550-600 रुपये प्रति दिन हो गई है. वहीं, मजदूरों की उपलब्‍धता 70-75 फीसदी घटी है.

इसे भी पढ़ें : कोरोना के दौर में सैलरी बढ़ाने के लिए कैसे करें बातचीत?

मजदूरों को सबसे ज्‍यादा रोजगार कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मिलता है. यह सेक्‍टर काफी कुछ असंगठित है. ज्‍यादातर वर्कर्स दिहाड़ी मजदूरी पर काम करते हैं. बेटरप्‍लेस के सीओओ सौरभ टंडन ने कहा कि लेबर की किल्‍लत के चलते कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में मजदूरी बढ़ी है. कंपन‍ियां तेजी से अपनी लंबित परियोजनाओं को पूरा करना चाहती हैं.

टॉप एग्‍जीक्‍यूटिव्‍ज के अनुसार, कुशल कामगारों की भारी किल्‍लत है. कारण है कि महामारी के बाद बड़ी संख्‍या में मजदूर अपने-अपने घरों से वापस नहीं लौटे हैं. रियल एस्‍टेट डेवलपर हीरानंदानी ग्रुप के एमडी निरंजन हीरानंदानी ने कहा कि हम बाहर से कुशल कारीगरों को लाने की कोशिश कर रहे हैं. ये ज्‍यादा मजदूरी की मांग करते हैं. इससे कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर में औसत मजदूरी बढ़ी है. कुशल श्रमिकों की कमी सिर्फ रियल एस्‍टेट की समस्‍या नहीं है, बल्कि यह दिक्‍कत हर सेक्‍टर की है. बहुत कम लोगों के पास काम की कुशलता होती है.

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 10% कर्मचारी ऑफिस लौटे : रिपोर्ट

इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर प्रोजेक्‍टों के बिल्‍डर केईसी इंटरनेशनल के सीईओ विमल केजरीवाल ने कहा कि फिटर और कारपेंटर जैसे कुशल कामगारों की मजदूरी 10-20 फीसदी बढ़ गई है. काम ज्‍यादा है. लंबित परियोजनाओं को पूरा करने का दबाव है. सभी साइटों पर पूरी क्षमता के साथ काम हो रहा है.

इंडस्‍ट्री के जानकार कहते हैं कि मध्‍यम और छोटे संस्‍थान जिनमें लॉकडाउन की शुरुआत में वर्कर्स को रोक पाने की क्षमता नहीं थी, उन्‍हें लेबरों को मंगाने में ज्‍यादा खर्च करना पड़ रहा है. कंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टर की बड़ी कंपनियों ने खाने-पीने और रहने की व्‍यवस्‍था उपलब्‍ध कराकर अपने वर्कर्स को बनाए रखा.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

द‍िहाड़ी मजदूरीमजदूरी में इजाफान्‍यूनतम द‍िहाड़ीकंस्‍ट्रक्‍शन सेक्‍टरलेबरों की किल्‍लत

ETPrime stories of the day

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing
Artificial intelligence

Havildar Tom Cruise? A case diary of Indian cops’ craze for artificial intelligence in policing

11 mins read
Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game
Artificial intelligence

Smarter, better, and now more affordable: AI is becoming omnipresent as it steps up its game

15 mins read
MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?
Investing

MedPlus has scale, Wellness Forever scores in product mix. Which IPO will get more investor love?

10 mins read

अगर आपके पास ये स्किल्‍स हैं तो नौकरी की नहीं है कमी

जयपुर, 22 अक्टूबर (भाषा) एयू स्मॉल फाइनेंस बैंक ने ‘क्यूआर कोड साउंड बॉक्स’ पेश किया है जो पांच भाषाओं में काम करेगा। ‘क्यूआर कोड साउंड बॉक्स’ डिजिटल भुगतान के समय दुकानदार या व्यापारी को सूचित करता है। बैंक के शुक्रवार को जारी बयान के अनुसार ‘क्यू आर कोड साउंड बॉक्स’ हिंदी, अंग्रेजी, पंजाबी, गुजराती, और मराठी भाषा में उपलब्ध है। इसके अनुसार बैंक अब तक 2 लाख से ज्यादा स्थानों पर क्यूआर कोड लगा चुका है। बैंक के कार्यकारी निदेशक उत्तम टिबरेवालरोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.अगले 3-6 महीने में कोविड से पहले के स्तर पर पहुंच जाएगी कंपनियों की भर्ती : सर्वे

रोजगार संबंधी सेवाएं देने वाली वेबसाइट नौकरी डॉट कॉम के 'हायरिंग आउटलुक सर्वे' के अनुसार, नियोक्ता नए साल को लेकर आशावान लग रहे हैं.(हेडिंग और इंट्रो में लाभ प्रतिशत 43 प्रतिशत करते हुए रिपीट) नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट (आरआईएल) ने शुक्रवार को बताया कि सभी कारोबारों के अच्छे प्रदर्शन के चलते चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 43 प्रतिशत बढ़ गया। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ एक साल पहले के 9,567 करोड़ रुपये की तुलना में बढ़कर 13,680 करोड़ रुपये हो गया। आरआईएल ने कहा कि सितंबर तिमाही में आय बढ़कर 1,78,328 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधिनेशनल रिटेल पॉलिसी से 4 साल में पैदा होंगी 30 लाख नौकरियां : सीआईआई

नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट (आरआईएल) ने शुक्रवार को बताया कि सभी कारोबारों के अच्छे प्रदर्शन के चलते चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 74 फीसदी बढ़ गया। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ एक साल पहले के 9,567 करोड़ रुपये की तुलना में बढ़कर 13,680 करोड़ रुपये हो गया। आरआईएल ने कहा कि सितंबर तिमाही में आय बढ़कर 1,78,328 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 1,20,444 करोड़ रुपये थी।नयी दिल्ली, 22 अक्टूबर (भाषा) रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट (आरआईएल) ने शुक्रवार को बताया कि सभी कारोबारों के अच्छे प्रदर्शन के चलते चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में उसका शुद्ध लाभ 74 फीसदी बढ़ गया। कंपनी ने शेयर बाजार को बताया कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में उसका शुद्ध लाभ एक साल पहले के 9,567 करोड़ रुपये की तुलना में बढ़कर 13,680 करोड़ रुपये हो गया। आरआईएल ने कहा कि सितंबर तिमाही में आय बढ़कर 1,78,328 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले इसी अवधि में 1,20,444 करोड़ रुपये थी।एयू बैंक ने पांच भाषाओं में ‘क्यू आर कोड साउंड बॉक्स’ पेश किया



Relevant reports:www पॉइंट रम्मी
Relevant reports:बैकरेट सटीक खेल
Relevant reports:ईगो स्टेटस इन हिंदी
Relevant reports:चेस चैंपियन इन हिंदी
Relevant reports:ऑनलाइन पोकर लीग
Relevant reports:क्या नीदरलैंड में लवबेट कानूनी है
Relevant reports:लाइव डीलर ब्लैकजैक पीए
Relevant reports:एनबीए यू.एस. सट्टेबाजी अनुपात
Relevant reports:क्रिकेट एच स्ट्रीट डीसी
Relevant reports:दांव पोकर
Relevant reports:रम्मीकल्चर नकद निकासी
Relevant reports:रमी एकता स्रोत कोड
Relevant reports:स्पोर्ट्स औ कनाडा
Relevant reports:lovebet.f
Relevant reports:बकरा फोटो
Relevant reports:एयू स्लॉट बोनस कोड
Relevant reports:बेटा का पर्यायवाची शब्द
Relevant reports:सी कैसीनो ऑनलाइन
Relevant reports:रूले ज़िप कार्डधारक
Relevant reports:फुटबॉल भेजो
Relevant reports:रूले फुटबॉल कौशल
Relevant reports:तुम फुटबॉल खेलते हो
Relevant reports:रम्मी 52
Relevant reports:क्रिकेट टीवी
Relevant reports:रूसी रूले मशीन
Relevant reports:betway मैच आज
Relevant reports:स्लॉट बचे हैं

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0